संवैधानिक प्रावधान

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय(स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग)

I. संघ सरकार के कार्य

1. चिकित्सा और पोषण में अनुसंधान या विशेष अध्ययन को बढ़ावा देने लिए संघ एजंसियां और संस्थान जिसमें निम्नलिखित से सभी मामले सम्मलित है-

  • (क) केंद्रीय अनुसंधान संस्थान;
  • (ख) अखिल भारतीय स्वच्छता एवं जन स्वास्थ्य संस्थान;
  • (ग) राष्ट्रीय संचारी रोग संस्थान;
  • (घ) केंद्रीय औषध प्रोयगशाला;
  • (ड.) राजकुमारी अमृत कौर नर्सिंग कॉलेज;
  • (च) लेडी रीडिंग हेल्थ स्कूल;
  • (छ) केंद्रीय मनोरोग संस्थान;
  • (ज) डॉ.राम मनोहर लोहिया अस्पताल और नर्सिंग होम;
  • (झ) सफदरजंग अस्पताल;
  • (ञ) मेडिकल स्टोर संगठन;
  • (ट) बी.सी.जी.वैक्सीन प्रयोगशाला;
  • (ठ) जवाहरलाल स्नाकोत्तर चिकित्सा संस्था एवं अनुसन्धान संसथान;
  • (ड) श्रीमती सुचेता कृपलानी मेडिकल कॉलेज तथा अस्पताल और कलावती सरन बाल अस्पताल;
  • (ढ) केंद्रीय सरकार स्वास्थ्य योजना (सीजी एचएस);
  • (ण) केंद्रीय सवास्थ्य सेवा ;
  • (त) भारत सरकार के सेरोलॉजिस्ट और रसायन परीक्षक;
  • (थ) एड्स नियंत्रण विभाग;
    1. एचआईवी/एड्स नियंत्रण और रोकथाम से सम्बंधित क्षेत्रों के केंद्र और अंतर-संस्थागत समन्वय दोनों
    2. इस संबंध में एचआईवी/एड्स के नियंत्रण, रोकथाम, इलाज और प्रवंध के उच्च स्थान के लिए संस्थागत ढांचा उपलब्ध करना
    3. एचआईवी/एड्स के बारे में सटीक, पूर्ण और समय पर जानकारी का प्रचार प्रसार करना ताकि लोगो प्रेरित, सशक्त, और अधिकार सम्पन्न बनाया जा सके और इस रोग के खिलाफ प्रभावी सुरक्षा उपायों को बढ़ावा दिया जा सके
    4. राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन (नाको)
    5. अंतराष्ट्रीय सहयोग, आदान-प्रदान कार्यक्रमों और एचआईवी/एड्स प्रबंध और अनुसंधान के क्षेत्र में उन्नत प्रशिक्षण
    6. एचआईवी/एड्स की रोकथाम के क्षेत्र में शोध अध्यन को बढ़ावा देना

2. निम्नलिखित संस्थानों से सम्बंधित सभी मामले -

  • (क) केंद्रीय खाद्य प्रयोगशाला;
  • (ख) केंद्रीय खाद्य एवं मानकीकरण प्रयोगशाला;
  • (ग) केंद्रीय भारतीय भेषज प्रयोगशाला;
  • (घ) अखिल भारतीय शारीरिक चिकित्सा और पुनर्वास संस्थान;
  • (ड.) राष्ट्रीय क्षय रोग संस्थान;
  • (च) केंद्रीय कुष्ठ शिक्षण और संस्थान;
  • (छ) केंद्रीय कुष्ठ प्रशिक्षण और अनुसन्धान केंद्र, रायपुर (उत्तर प्रदेश), असका (उड़ीसा), गौरापुर (पश्चिम बंगाल), तितुलमारी (बिहार);
  • (ज) बंदरगाह संगरोध (समुद्री और हवाई) नाविक और समुद्री अस्पताल और बंदरगाह संगरोध से संबद्ध अस्पताल;
  • (झ) बंदरगाह और वायुयान सवास्थ्य संगठन;
  • (ञ) नाविक की चिकित्सा परीक्षा;
  • (ट) अंतराष्ट्रीय स्वास्थ्य नियम;
  • (ठ) विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ);

3. (क) खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम ,2006 (2006 का 34 )
(ख) खाद्य अपमिश्रण रोकथाम अधिनियम, 1945 (1945 का 37) और केंद्रीय प्रयोगशाला

4. चिकित्सा और संबद्ध विषयों में विदेशों में उच्च प्रशिक्षण

5. भारत में और विदेशो में चिकित्सा और सम्बंधित क्षेत्रों में अंतराष्ट्रीय सम्मेलनों के सम्बन्ध में कार्य का समन्वय

6. निम्नलिखित से सम्बंधित स्वास्थ्य कार्यक्रम -

  • (क) अंतराष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रम
  • (ख) राष्ट्रीय दृष्टिहीनता कार्यक्रम
  • (ग) राष्ट्रीय कुष्ठ उन्नमूलन कार्यक्रम
  • (घ) राष्ट्रीय क्षय रोग कार्यक्रम
  • (ड.) राष्ट्रीय मलेरिया उन्नमूलन कार्यक्रम
  • (च) संचारी रोग के नियंत्रण और उन्नमूलन से सम्बंधित सभी राष्ट्रिय कार्यक्रम
  • (छ) संचारी रोग के नियंत्रण और उन्नमूलन से सम्बंधित द्विपक्षीय सांस्कृतिक आदान-प्रदान कार्यक्रम

7. विभिन्न चिकित्सा और स्वास्थ्य विषयों में भारत और विदेशों में प्रशिक्षण के लिए फैलोशिप

8. महामारी से संबंधित - दवाओं की आपूर्ति से जुडी समस्याएं, कुपोषण के प्रभाव और पेयजल की कमी के कारण विभिन्न रोग उतपन्न होते है, परिणामस्वरूप प्राकृतिक आपदाएं आती है

ii. संघ राज्य क्षेत्रों के संबंध में विधायी और कार्यकारी उद्देश्यों के लिए कार्य सूची

9. सार्वजानिक स्वास्थ्य अस्पताल और औषधालय

10. विभाग में निपटाए जाने वाले विषयों के सम्बन्ध में वैज्ञानिक सोसायटियां और एसोसिएशन

11. विभाग में निपटाए जाने वाले विषयों से सम्बंधित धर्मार्थ और धार्मिक निधि

iii. कार्य सूची जिसके आधार पर केंद्र सरकार केवल संघ के लिए विधायी क्षमता में तथा सभी संघ राज्य क्षेत्रों के लिए विधायी और कार्यकारी दोनों क्षमताओं के लिए कार्य करती है

12. निम्नलिखित से संबंधित सभी मामले-

  • (क) चिकित्सा व्यवसाय और चिकित्सा शिक्षा
  • (ख) नर्सिंग व्यवसाय और नर्सिंग शिक्षा
  • (ग) फार्मासिस्ट और फार्मेसी शिक्षा
  • (घ) दन्त चिकित्सा व्यवसाय और दन्त चिकित्सा शिक्षा
  • (ड.) मानसिक सवास्थ्य
  • (च) औषध मानक
  • (छ) दवाओं और दवाइयों से संबंधित विज्ञापन
  • (ज) एक राज्य से दूसरे राज्य में मनुष्य को प्रभावित करने वाले संक्रामक या संक्रामक रोगों के विस्तार की रोकथाम
  • (झ) खाद्य पदार्थों और दवाओं में मिलावट की रोकथाम

iv. विविध कार्य

13. निम्नलिखित से संबंधित सभी मामले-

  • (क) भारतीय चिकित्सा परिषद
  • (ख) स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के केंद्रीय परिषद
  • (ग) भारतीय दन्त चिकित्सा परिषद
  • (घ) भारतीय नर्सिंग परिषद
  • (ड.) भारतीय फार्मेसी परिषद
  • (च) भारतीय भेषज समिति

14. (i) रेलवे सेवा में कार्यरत (ii) रक्षा सेवा अनुमान से भुगतान किये जाने वाले कर्चारी (iii) अखिल भारतीय सेवा (चिकित्सा उपस्थित) नियम, 1956 द्वारा शाषित अधिकारी और (v) चिकित्सा उपस्थित नियम, 1956 द्वारा अधिशाषित अधिकारियों के अलावा केंद्र कर्मचारियों के लिए चिकित्सा उपस्थिति और उपचार पर रियायत

15. केंद्रीय सिविल सेवा के लिए चिकित्सा परीक्षा और मेडिकल बोर्ड ( रेलवे विभाग द्वारा नियंत्रित और नागरिक सेवाओं को छोड़कर रक्षा सेवा अनुमान से भुगतान किये जाने वाले कर्मचारियों के अलावा)

16. निम्नलिखित से संबंधित सभी मामले-

  • (क) वल्लभभाई पटेल चेस्त इंस्टिट्यूट (दिल्ली विश्वविद्याल के अधीन) को अनुदान
  • (ख) भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी को अनुदान
  • (ग) स्पा और हेल्थ रिसोर्ट
  • (घ) हटाया गया
  • (ड.) राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड
  • (च) चितरंजन राष्ट्रीय अनुसन्धान केंद्र
  • (च) चितरंजन राष्ट्रीय अनुसन्धान केंद्र
  • (छ) अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान
  • (ज) हटाया गया
  • (झ) अखिल भारतीय वाक्क और श्रवण संस्थान
  • (ञ) भारतीय पाश्चर संस्थान
  • (ट) फिजियोथरैपी प्रशिक्षण केंद्र, किंग एडवर्ड मेमोरियल हॉस्पिटल
  • (ठ) राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य एवं तांत्रिक विज्ञान संस्थान
  • (ड) हॉस्पिटल सर्विसेज कन्सल्टेंसी कारपोरेशन लिमिटेड

v. परिवार कल्याण मामले

17. परिवार कल्याण संबंधी नीति और संगठन

18. निम्नलिखित से संबंधित सभी मामले-

  • (क) राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन
  • (ख) राष्ट्रीय जनसंख्या आयोग
  • (ग) प्रजनन बाल स्वास्थ्य

19. राष्ट्रीय जनसंख्या नीति के अनुसार अंतर क्षेत्रीय समन्वय

20. जनसंख्या स्थिरता कोष और अधिकार प्राप्त कार्य समूह से संबंधित मामले

21. संगठन और विदेश में उच्च प्रशिक्षण सहित परिवार कल्याण के सभी पहलुओं में शिक्षा, प्रशिक्षण और अनुसन्धान की दिशा

22. परिवार नियोजन को सहायक उपकरणों का उत्पादन और आपूर्ति

23. परिवार कल्याण से संबंधित मामलों के सम्बन्ध में विदेशो और अंतराष्ट्रीय निकायों के साथ संपर्क करना

24. बाह्य सहायता से परिवार कल्याण योजनाए और परियोजनाएं

25. अंतराष्ट्रीय जनसंख्या विज्ञान संस्थान, मुम्बई

26. विकास और दृश्य - श्रव्य सहायक उपकरणों का विकास और उत्पादन, शिक्षा विस्तार और जनसंख्या एवं परिवार कल्याण के संबंध में सूचना

27. परिवार कल्याण कार्यक्रम के लिए सार्वजानिक निजी भागीदारी को बढ़ावा देना

28. निम्नलिखित संस्थानों से संबंधित सभी मामले-

  • (क) हिंदुस्तान लेटेक्स लिमिटेड, तिरुवन्नतपुरम
  • (ख) राष्ट्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण संस्थान, नई दिल्ली

29. गर्भाधान-पूर्व और प्रसव पूर्व निदान तकनीकों का कार्यान्वयन (लिंग चयन का निषेध) अधिनियम, 1944 ( 1944 का 57) - चिकित्सकीय गर्भावस्था समाप्ति अधिनियम, 1971 (1971 का 34)

आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी (आयुष) विभाग

i. संघ सरकार के कार्यालय

1. आयुर्वेद, सिद्ध, यूनानी, होम्योपैथी, योग और प्राकृतिक चिकित्सा प्रणलियों का विकास और प्रसार करने के लिए नीति और नीतिगत विषय बनाना

2. आयुर्वेद, सिद्ध, यूनानी, होम्योपैथी, योग और प्राकृतिक चिकित्सा प्रणलियों के विकास और प्रसार के लिए केंद्रीय योजनाओं और केंद्र परियोजित योजनाओं सहित कार्यक्रमों का विकास और कार्यान्वयन

3. आयुर्वेद, सिद्ध, यूनानी, होम्योपैथी, योग और प्राकृतिक चिकित्सा प्रणलियों की सहायता सहित समन्वय और अनुसन्धान एवं विकास को बढ़ावा देना

4. आयुर्वेद, सिद्ध, यूनानी, होम्योपैथी, योग और प्राकृतिक चिकित्सा प्रणलियों से संबंधित केंद्रीय अनुसन्धान एवं विकास, शिक्षा एवं मानक संस्थानों की स्थापना और अनुरक्षण

5. निम्नलिखित सभी मुद्दों और विषयों पर सरकारी स्तर पर कार्यवाही अपेक्षित है-

  • (क) भारतीय चिकित्सा भेषज प्रयोगशाला, गाजियाबाद;
  • (ख) होम्योपैथिक भेषज प्रयोगशाला, गाजियाबाद;
  • (ग) भारतीय केंद्रीय औषध परिषद;
  • (घ) होम्योपैथी केंद्रीय परिषद;
  • (ड.) आयुर्वेदिक भेषज समिति;
  • (च) होम्योपैथिक भेषज समिति;
  • (च) यूनानी भेषज समिति;
  • (झ) सिद्ध भेषज समिति;
  • (ज) आयुर्वेद, सिद्ध, यूनानी, आयुर्वेद, सिद्ध, यूनानी, औषिधि तकनिकी सलाहकार बोर्ड;
  • (छ) केंद्रीय आयुर्वेद और सिद्ध अनुसन्धान परिषद;
  • (ञ) केंद्रीय होम्योपैथी अनुसन्धान परिषद;
  • (ट) केंद्रीय यूनानी चिकित्सा अनुसन्धान परिषद;
  • (ठ ) केंद्रीय योग और प्राकृतिक चिकित्सा अनुसन्धान परिषद;
  • (ड) राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान;
  • (त) राष्ट्रीय होम्योपैथी संस्थान;
  • (थ) राष्ट्रीय प्राकृतिक चिकित्सा संस्थान;
  • (द) राष्ट्रीय योग संस्थान;
  • (ध) राष्ट्रीय यूनानी चिकित्सा संस्थान;
  • (न) राष्ट्रीय सिद्ध संस्थान;
  • (प) स्नाकोत्तर शिक्षण और अनुसन्धान संस्थान, गुजरात आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय;
  • (फ) इंडियन मेडिसिन्स एंड फार्मास्युटिकल्स कॉर्पोरशन लिमिटेड;
  • (ब) राष्ट्रीय आयुर्वेद विद्यापीठ;

6. विदेश में उच्च प्रशिक्षण सहित भारतीय चिकित्सा प्रणलियों के सभी पहलुओं में शिक्षा, प्रशिक्षण और अनुसन्धान

7. संवर्ग सृजन और नियंत्रण से संबंधित मामले जिसमे भर्ती नियमों का सृजन और संशोधन, भर्ती, पदोन्नति तथा भारतीय चिकित्सा प्रणलियों से संबंधित अन्य सभी सेवा मामले केंद्रीय सरकार स्वास्थ्य योजना के चिकित्सा एवं होम्योपैथी चिकित्सक जिसमें भारतीय औषध और होम्योपैथिक प्रणाली के चिकित्सक, केंद्रीय अस्पताल जिसमें सरकारी स्तर पर कार्यवाही अपेक्षित हो

टिप्पणी:- दैनिक प्रशासन और प्रबंधन निदेशक, केंद्रीय सरकार स्वास्थ्य योजना के साथ सदैव संबद्ध रहेगा

8. भारतीय चिकित्सा और होम्योपैथिक प्रणाली के संबंध में विदेशों और अंतर्राष्ट्रीय निकायों के साथ संपर्क

9. भारतीय चिकित्सा और होम्योपैथिक प्रणाली के संबंध में वैज्ञानिक समाज / संगठनों और धर्मार्थ एवं धार्मिक निधि से संबंधित मामले

10. भारतीय चिकित्सा और होम्योपैथिक प्रणाली में औषधों के लिए गुणवत्ता और मनको से संबंधित ऐसे मामले जिन पर सरकारी स्तर पर करवाई करना अपेक्षित है

11. भारतीय चिकित्सा और होम्योपैथिक प्रणाली के कार्य और कार्यक्रमों की समीक्षा के लिए राज्य सरकारों, गैर सरकारी संगठनों और संस्थानों साथ परामर्श और समन्वय करना

12. भारतीय चिकित्सा और होम्योपैथिक प्रणाली के विभिन्न पहलुओं से संबंधित सांख्यिकी

13. भारतीय चिकित्सा और होम्योपैथिक प्रणाली के संबंध में केंद्र शासित क्षेत्रों से संबंधित प्रस्ताव और मामले जिन पर भारत सरकार की स्वीकृति और सहमिति की आवश्यकता होती है

14. भारतीय चिकित्सा और होम्योपैथिक प्रणाली के संबंध में अलग-अलग राज्यों के विधायी प्रस्ताव जिन पर भारत सरकार की स्वीकृति और सहमिति की आवश्यकता होती है

15. औषधीय पादप बोर्ड

स्वास्थ्य अनुसंधान विभाग

1. चिकित्सा, सवास्थ्य, जैव चिकित्सा और चिकित्सा पेशे और शिक्षा से संबंधित क्षेत्रों में नैदानिक परीक्षण और परिचालन अनुसंधान सहित बुनियादी, अनुप्रयुक्त और नैदानिक अनुसंधान का संवर्धन एवं समन्वय करना तथा अवसंरचना, जन-शक्ति और महत्वपूर्ण क्षेत्रों में दक्षता तथा उससे संबंधित जानकारी का प्रबंधन करना

2. चिकित्सा और स्वास्थ्य अनुसंधान में नैतिक विषयों सहित अनुसंधान नियमन मुद्दों को प्रोत्साहित करना और मार्गदर्शन करना

3. चिकित्सा, जैव- चिकित्सा और स्वास्थ्य अनुसंधान से संबंधित क्षेत्रों में सर्वजनिक-निजी-भागीदारी का अंतर-क्षेत्रीय समन्वय और संवर्धन

4. चिकित्सा और स्वास्थ्य से संबंधित अनुसंधान क्षेत्रों में उन्नत प्रशिक्षण, जिसमे भारत और विदेशों में ऐसे प्रशिक्षण के लिए फैलोशिप अनुदान शामिल है

5. चिकित्सा और स्वास्थ्य अनुसंधान में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग जिसमें भारत और विदेशों में क्षेत्रों में अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों से संबंधित कार्य

6. महामारियों और प्राकृतिक आपदाओं से निपटने के लिए तकनिकी सहायता

7. नए और विदेशी एजेंटों के कारण फैलने वाले रोगों की जाँच और उनकी रोकथाम के लिए साधनों का विकास

8. चिकित्सा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में विशेष अध्यनन को बढ़ावा देने के लिए विभाग को सौपें गए विषयों से संबंधित क्षेत्रों में केंद्रीय और राज्य सरकारों के अंतर्गत संगठनों और संस्थानों के बीच समन्वय

9. भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद

  • संवैधानिक प्रावधान (370.78 KB)